Breaking News

दो पक्षो में हुई झड़प में पुलिस के समक्ष दर्ज कराए गए फर्द बयान के आधार पर प्राथिमिकी दर्ज



रिपोर्ट एहतेशाम पप्पू

पातेपुर थाना क्षेत्र के चकफाजील मिल्की गांव में मोबाइल चोरी को लेकर दो पक्षो में हुई झड़प में दर्जनों लोगों के गंभीर रूप से घायल होने के मामले में हाजीपुर के सदर अस्पताल में ईलाज के दौरान दोनो पक्षो की ओर से नगर थाने की पुलिस के समक्ष दर्ज कराए गए फर्द बयान के आधार पर पातेपुर पुलिस ने परस्पर प्राथिमिकी दर्ज कर कार्रवाई में जुट गई है। पुलिस इस मामले में दोनो पक्षो के आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी में जुट गई है।


    मिली जानकारी के अनुसार प्रथम पक्ष के घायल द्वारा पुलिस के समक्ष दर्ज कराए गए फर्द बयान के अनुसार थाना क्षेत्र के चकफाजील मिल्की गांव निवासी मो0 मोख्तार ने अपने फर्द बयान में बताया कि घटना वाले दिन वह अपने दरबाजे पर बैठा था तभी उसके बगलगीर मो0 शाहिद मो0 नेयाज, मो0 इस्तखार समेत एक दर्जन से अधिक लोग पूर्व के पुराने विवाद को लेकर दरबाजे पर आकर गाली गलौज करने लगे। गाली गलौज का विरोध करने पर सभी आरोपियों ने एक मत बनाकर मारपीट करने लगे। मारपीट के दौरान बचाने आये मो0 अफरोज, मो0 इमरोज, मो0 जसीम, सजरा खातून, मो0 तमन्ने, मो0 परवेज समेत कई अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गए.वही दूसरी ओर दुसरे पक्ष से गंभीर रूप से घायल मो0 परवेज ने सदर अस्पताल में अपना फर्द बयान दर्ज कराते हुए बताया कि कुछ दिन पूर्व उसके बहन नुजहत प्रवीण का मोबाइल फोन गांव के ही मो0 जीसान एवं मो0 परवेज द्वारा चोरी कर ली गई थी। जिसको लेकर विवाद हुआ था। विवाद के दौरान नुजहत प्रवीण, मो0 इत्तफाक, मो0 सिराज के साथ मारपीट की गई थी। मारपीट की सूचना मिलने पर हमसभी परिवार केलोग लोग कलकत्ता एवं दिल्ली से घर आये. घर पहुंचने पर मो0 परवेज, मो0 तमन्ने, मो0 अफरोज, मो0 अमरोज समेत दर्जनों की संख्या में लोगो ने एक राय बनाकर मारपीट की घटना को अंजाम दिया। मारपीट के दौरान नुजहत प्रवीण, नुसरत प्रवीण समेत लगभग आधा दर्जन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।घायलों में से नुसरत प्रवीण एवं नुजहत प्रवीण को हाजीपुर सदर अस्पताल रेफर किया गया है। वही बाकी लोगो का ईलाज पातेपुर पीएचसी में किया जा रहा है।मो0 परवेज ने आरोप लगाया है कि आरोपियों ने मारपीट के दौरान पूरे परिवार के सदस्यों को गंभीर रूप से जख्मी कर दिया है। इस मामले में पातेपुर पुलिस ने दोनो घायलों के फर्द बयान के आधार पर परस्पर प्राथिमिकी दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!