Breaking News

तीसरी सोमवारी पर जलाभिषेक के लिए कांवरियों का उमड़ा जनसैलाब


वैशाली:
तीसरी सोमवारी पर शिवालयों में जलाभिषेक के लिए कावड़ियों का सैलाब उमड़ पड़ा।रविवार को महुआ हाजीपुर मार्ग गेरुआ वस्त्र धारी डाक काबड़ियो की भीड़ से गुलजार हो उठा। वही दिन से लेकर संपूर्ण रात बोल बम के नारों से मार्ग गुंजायमान रहा।

गाड़ी पर बड़े-बड़े हार्न और साउंड बॉक्स बांधकर कावड़िया गाते बजाते हुए पहलेजा धाम पहुंचे। जहां से दक्षिण वाहिनी गंगा जल को उठाकर अपने गंतव्य स्थान के लिए प्रस्थान किया। महुआ मार्ग में प्रवेश करते ही दौलतपुर, सैदपुर रजौली, सेंदुआरी, बेरई, बेलकुंडा, बैद्यनाथपुर, बोतला चौक, बखरी, रानीपोखर, कन्हौली, फुलवरिया, मंगरू चौक, जवाहर चौक, महुआ गांधी चौक, छतवारा, कुशहर, टारा, हरपुर आदि स्थानों पर शिविर लगाकर उनका भव्य स्वागत किया गया। शिविर में उन्हें ठंडा जल, नींबू पानी, शरबत, चाय, कॉफी, बिस्किट, फल आदि दिए गए। रानीपोखर बखरी में राजापाकर विधायक प्रतिमा कुमारी के द्वारा शिविर लगाकर कांवरियों का स्वागत किया गया। फुलवरिया पश्चिम के युवाओं द्वारा कावड़ियों का भव्य स्वागत किया गया। यह काबड़िए बाबा खगेश्वर नाथ धाम पूसा, द्रव्येश्वर नाथ धाम डभैच, शिव मंदिर बाजीतपुर, ताजपुर, सुक्की के अलावा विभिन्न शिवालयों पर जलाभिषेक करेंगे। डाक कांवड़ियों में महिलाओं और बच्चों की भीड़ 40 फीसद थी। लंबी दूरी के बावजूद जलाभिषेक के लिए उनमें भक्ति के साथ उत्साह और उमंग थे। कावड़ियों की सेवा के लिए श्रद्धालु गाजे-बाजे के साथ जगह-जगह डटे थे। कावड़ियों के दर्शन के लिए महुआ हाजीपुर मार्ग के किनारे जगह-जगह श्रद्धालु खड़े थे। कोई फूल बरसा कर रहा था तो कोई उन्हें सरबत, पानी, चाय, बिस्किट आदि देने में मग्न था। लोगों में शिव भक्ति सिर चढ़कर बोल रही थी। बताया गया कि तीसरी सोमवारी पर सबसे अधिक कावड़िए शिवालयों में जलाभिषेक करेंगे। उधर सोमवार को महुआ गांधी मैदान से बाबा बटेश्वर नाथ धाम के लिए विशाल कावड़ यात्रा निकलेगी। सोमवारी पर श्रद्धालुओं को जलाभिषेक के लिए शिवालयों को सजाया गया है और उनका भव्य श्रृंगार का भी आयोजन किया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!