Breaking News

भगवानपुर के पूर्व बीडीओ शालिनी प्रज्ञा की देवी गीत का वीडियो एलबम मचा रहा धूम


वैशाली
जिला के भगवानपुर प्रखंड के पूर्व बी.डी.ओ. शालिनी प्रज्ञा बनी लोक गायिका।उन्होंने अपनी गाने की रिकॉर्डिंग का शुभारंभ देवी गीत से किया है।उनकी पहली देवी गीत "माई की मोहनी मुर्तिया, कौवने हो रंगवा न.....

कौवने रंगवा चुनरी, कौवने रंगवा टिकुली....." नवरात्र के अवसर पर क्षेत्र में धुम मचा रही है।श्रीमती प्रज्ञा ने एक भेंट मे बताया कि उनको गाने का शौक बचपन से ही है।वे विद्यालय के मंच पर गाना गाती थी और कई बार पुरस्कृत भी हुई हैं।सन 2004 मे उन्हें लोक गीत के क्षेत्र मे भारत सरकार के सांस्कृतिक मंत्रालय द्वारा पुरस्कृत भी किया गया है।ज्ञात हो कि श्रीमती प्रज्ञा कुछ वर्षों पूर्व भगवानपुर प्रखंड के प्रखंड विकास पदाधिकारी भी रह चुकीं हैं।उनकी पहली देवी गीत प्रसारित होने से आम लोगों मे खुशी व्याप्त है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!