Breaking News

बिदुपुर प्रखंड के जनप्रतिनिधियों की हुई बैठक, थाना प्रभारी को निलंबित किए जाने की उठी मांग


वैशाली बिदुपुर संवाददाता अभिनय कुमार की रीपोर्ट
 

बिदुपुर थानेदार धनन्जय पांडेय द्वारा महिलाओं को गाली गलौज और मारपीट जैसे अशोभनीय और अमानवीय हरकत किये जाने के बिरुद्ध प्रखण्ड मुखिया संघ और जनप्रतिनिधियों ने प्रखण्ड के सभागार में सोमवार को बैठक की जिसमे थानेदार पर कारवाई करते हुए निलंबन किये जाने की मांग आरक्षी अधीक्षक वैशाली,पुलिस उप महानिरीक्षक,जिला अधिकारी और डीजीपी पटना से किया गया।कारवाई नही होने की सूरत में बुधवार से अनिश्चितत कालीन प्रखण्ड मुख्यालय पर बैठने का निर्णय लिया गया।

मुखिया संघ की बैठक में थानेदार से पीटी गई महिला के बयान के आलोक में लिखित शिकायत में यह आरोप लगाया गया कि बीते 23 सितम्बर को नावानगर पंचायत के राजीव राय की पत्नी लालती देवी को पंचायत मुखिया राम नरेश भगत के साथ किसी मामले की पूछताछ के लिए थानेदार ने बुलवाए।थाने पर जब वह थानाप्रभारी के आने के इंतज़ार कर रही थी।थोड़ी देर पश्चात जब थाना प्रभारी पहुचे तो उसे देखते ही भद्दी भद्दी गाली देते हुए जोड़ की लात कुर्सी में मारी।जिससे वह दूर जा गिरी और अर्धनग्न हो गई।जिसके बाद पंचायत मुखिया राम नरेश भगत को जाति सूचक गाली देते हुए बेइज्जत कर भगा दिए।यह भी आरोप लगाया गया कि इससे पूर्व धबौली पंचायत के समिति सदस्य अमरजीत कुमार राय की पत्नी को भी थाने पर भरपूर पिटाई किया गया।शिकायत की पुष्टि के लिये थाने में लगी सीसीटीवी के फुटेज निकालने की बात कही गई।

वही सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक 23 सितम्बर को ही पीएनबी बिदुपुर के निकट किसी महिला गिरोह की सदस्य द्वारा एक महिला की चैन छिनतई की गई।महिला चोर को लोगो ने पकड़ लिया इसी दरम्यान थानाप्रभारी गस्ती के दरम्यान मौके पर पहुचे और भरी बाजार में महिला चोर की डंडे से पिटाई की।स्थानीय किसी युवक ने जब विडियो बनानी शुरू की तो उसे भी पीटा गया।क्षेत्र में थानेदार साहब के कारवाई की चर्चा बाजार के दुकानदारों के बीच जमकर हो रहा है।

बैठक में मुखिया संघ के जिला अध्यक्ष अजय राय,मजलिसपुर मुखिया दीपनारायण उर्फ दीपू सिंह,बिदुपुर मुखिया प्रतिनिधि ब्रज किशोर सिंह,सहित अन्य पंचायतो के मुखिया मौजूद थे।

बताते चले कि बीते दिन रविवार को थानेदार द्वारा बुलाई गई दुर्गा पूजा शांति समिति के बैठक में प्रखण्ड के चौबीस पंचायत से एक भी मुखिया उपस्थित नही हुए जिसका कारण संघ द्वारा थानेदार द्वारा गैरजिम्मेदाराना हरकत किया जाना बताया गया।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!