Breaking News

विधुत एसटीएफ ने छापेमारी कर 3 लाख 95 हजार 46 रुपये जुर्मानानेसहित किया प्राथमिकी दर्ज


दावथ (रोहतास) 
थाना क्षेत्र के अलग-अलग गांवों में बिजली विभाग एसटीएफ ने विद्युत ऊर्जा चोरी के विरुद्घ अभियान चलाकर बिजली चोरी करते छः लोगों को पकड़ा।जिनके विरुद्ध थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। सहायक विधुत अभियंता रविशंकर कुमार ने बताया कि छापेमारी के क्रम में बिना कोई वैध विद्युत संबंध के अवैध रुप से विद्युत ऊर्जा की चोरी को लेकर रामनगर गांव के मील संचालक दरोगा साह के पुत्र विनोद साह पर 3 लाख24 हजार 826 रुपये जुर्माना लगाया है। विनोद साह परिसर के समीप अधिष्ठापित ट्रांसफार्मर के मेन एल.टी. बुश से सर्विस तार को संयोजित कर विद्युत ऊर्जा की चोरी कर रहा था।वहीं डेढ़गांव गांव के अयोध्या सिंह द्वारा भी बिना कोई कनेक्शन लिए अवैध रूप से विद्युत ऊर्जा का उपभोग कर रहे थे। जिसमें 38 हजार 986 रुपये अर्थ दंड लगाया गया है।दोनों व्यक्तियों के परिसर में मीटर भी अधिष्ठापित नहीं था, तथा विद्युत संबंधित कागजात की मांग करने पर कोई कागजात भी नहीं दिखाया गया। मीटर बाईपास कर अवैध रुप से बिजली चोरी को लेकर डेढ़गांव के बबन यादव पर 10 हजार 58रुपये, लक्ष्मण यादव पर 4 हजार 774 रुपये, ललन यादव पर 10 हजार 125 रुपये, सोनाझारो देवी पर 6 हजार 277रुपये जुर्माना लगाया गया है। उक्त उपभोक्ताओं के द्वारा मीटर बाईपास करने के कारण वास्तविक पठन अवरुद्ध हो रहा था।जिससे से शीर्ष कंपनी को राजस्व की क्षति हुई है। सहायक विद्युत अभियंता, बिक्रमगंज रविशंकर कुमार ने उपभोक्ताओं से आग्रह किया है, कि जो भी उपभोक्ता मीटर बाईपास कर विद्युत का उपयोग कर रहे हैं, वह दुरुस्त कर लें।साथ ही जो व्यक्ति विद्युत संबंध नहीं लिए हैं, वह अपना विद्युत संबंध ले लें। अन्यथा पकड़े जाने पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।उक्त जांच दल में विद्युत अधीक्षण अभियंता, सासाराम प्रवीण कुमार, सहायक विद्युत अभियंता (एसटीएफ) सासाराम, नीरज प्रभाकर, कनीय अभियंता दावथ कौशलेंद्र कुमार एवं अन्य क्षेत्रीय मिस्त्री मौजूद थे।विद्युत आपूर्ति अवर प्रमंडल, बिक्रमगंज अंतर्गत इस माह में अब तक 26 लोगो पर विद्युत ऊर्जा चोरी को लेकर प्राथमिकी दर्ज कराई गयी है। जिसमे 21,48,956 रुपये अर्थ दंड लगाया गया है।वहीं ग्रामीणों की मानें तो विभाग द्वारा कनेक्शन नहीं देने, बिजली बिल सुधार नहीं करने से लोगों को काफी कठीनाईयों का सामना करना पड़ रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!