Breaking News

महिला पीड़िता महिला थाना को दोषी ठहराया


  चंदौली। अलीनगर महिला थाने का मामला सामने आया है बता दें कि महिलाओं व बच्चों के खिलाफ होने वाले अपराधों पर लगाम लगाने के लिए योगी आदित्यनाथ की सरकार काफी सख्त नजर आ रही है। पिछले कार्यकाल में योगी आदित्यनाथ ने महिला व बाल अपराध पर लगाम लगाने के लिए एडीजी वूमेन व चाइल्ड सेफ्टी के पद का गठन किया था। साथ ही जिले में महिलाओं की शिकायत सुनने के लिए अलग से व्यवस्था की गई है। शासन के निर्देशों के तहत हर थाने में महिला डेस्क की स्थापना के निर्देश दिए गए थे जिसका पालन किया जा रहा है। इसके बावजूद भी तमाम बार इस तरह की शिकायतें आती हैं कि थाने पर महिला अपराध के मामलों की सुनवाई नहीं होती है। पीड़िता का कहना है कि यहां महिला थाना में विपक्षी पार्टी को बुलाकर मामला को रफा-दफा कर दिया जाता है महिला पीड़िता मजबूर होकर घर पर लौट जाती हैं महिला पीड़िता द्वारा बताया गया कि यहां महिला थाना का कोई मतलब नहीं निकलता है

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!