Breaking News

भाकपा माले के पांच सदस्यीय टीम ने मृतक रतन के परिजनों से की मुलाकात


वैशाली बिदुपुर संवाददाता अभिनय कुमार की रीपोर्ट
  

वैशाली: बिदुपुर थाना के सहदुल्लहपुर धबौली पंचायत के चक  उफरौल  गांव में रतन कुमार हत्याकांड की जांच करने के लिए भाकपा माले के पांच सदस्यीय टीम बुधवार की सुबह मृतक के घर तथा गांव पहुंचकर घरवालों और ग्रामीणों से बातचीत किया।टीम के सदस्यों को घटना के संबंध में मृतक के पिता मैनेजर राय एवं ग्रामीणों ने बताया कि घटना 9 अक्टूबर के मध्य रात्रि के बाद का है, क्योंकि लाश से ब्लड सुबह 7:00 बजे तक चल रहा था। लोगों ने बताया कि धोबौली हॉल्ट से 500 मीटर पूरब तथा 42 नंबर ढाला से 200 मीटर पश्चिम रेलवे ट्रैक के किनारे नीचे झाड़ी में लाश को पट अवस्था में लिटा कर रखा गया था और शीशम के झांकी से ढक दिया गया था। रेलवे ट्रैक पर एक जगह खून का धब्बा था और उससे नीचे थोड़ा दूर तक ब्लड का धब्बा था और लाश के सिर के नीचे धब्बा था ।ग्रामीणों ने बताया कि शव कपड़ा जस का तस था कहीं फटा हुआ नहीं था। इस कारण लाश देखने से स्पष्ट होता है कि ट्रेन के झटका या धक्के से रतन कुमार की मृत्यु नहीं हुई बल्कि उसको दौरा करके पकड़ के रेलवे ट्रैक पर पत्थर से सिर पर वार करके मारा गया और लाश को नीचे छुपा कर रख दिया गया। ऐसा ग्रामीणों को शक हो रहा है। ग्रामीणों का आरोप है कि पुलिस अभियुक्त गण से मिले हुए हैं जिसके कारण हत्या को ट्रेन दुर्घटना मान रहे हैं। भाकपा माले इस घटना की तीव्र निंदा करती है और उच्च स्तरीय जांच कर दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग करती है तथा परिजनों को उचित मुआवजा देने की मांग करती है ।यदि ऐसा नहीं हुआ तो पार्टी आंदोलन को बाध्य होगी 5 सदस्य टीम का नेतृत्व भाकपा माले के जिला सचिव कामरेड जोगेंद्र राय एवं जिला कमेटी सदस्य व बिदुपुर प्रखंड प्रभारी कामरेड अरविंद कुमार चौधरी कर रहे थे।जांच टीम में माले नेता अरविंद ठाकुर, विकास कुमार तथा सुजीत कुमार  प्रभाकर शामिल थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!