Breaking News

लोक आस्था का चार दिवसीय महान पर्व शुक्रवार को नहाए खाए के साथ ही प्रारंभ


वैशाली:
सहदेई बुजुर्ग/महनार - लोक आस्था का चार दिवसीय महान पर्व शुक्रवार को नहाए खाए के साथ ही प्रारंभ हो गया।महनार में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने नहाए खाए के अवसर पर गंगा स्नान कर गंगा का पवित्र जल अपने घर लेकर गए।

नहाए खाए के दिन महनार में बड़ी संख्या में सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालुओं ने पवित्र गंगा नदी डुबकी लगाया।महनार बाजार घाट सहित फतेहपुर कमाली,जहाज घाट,जंगलिया टोला घाट,लाहौरी चक घाट आदि सहित महनार प्रखंड के हसनपुर हबराहा आदि के अलावे सहदेई बुजुर्ग प्रखंड के अंतर्गत मुरौवतपुर,सुलतानपुर,नयागांव आदि में सैकड़ों की संख्या में व्रतियों ने गंगा में डुबकी लगाई।इस दौरान घरों में गंगा का पवित्र जल भरकर पर्व के लिए अपने घर लेकर ही गए।वही महनार बाजार घाट पर अव्यवस्था को लेकर लोगों में कुछ नाराजगी भी देखने को मिली।महनार बाजार घाट पर कहि-कहि कुछ गंदगी एवं कीचर को लेकर गंगा स्नान करने आए व्रतियों ने नाराजगी जताया।उनकी शिकायत थी कि साफ-सफाई की व्यवस्था ठीक से नहीं की गई।वहीं वार्ड सदस्य सुनीता जयसवाल ने भी नगर परिषद महनार की सफाई व्यवस्था पर सवाल उठाया और उन्होंने कहा कि व्यवस्था ठीक से नही की गई है।प्रशासन की तैनाती सुरक्षा के मद्देनजर घाट पर नहीं की गई है।वहीं गंगा स्नान को पहुंचे व्रतियों का कहना था कि कपड़े बदलने के लिए जगह भी काफी कम है जिससे भी उन्हें घाट पर परेशानियां हो रही हैं। वही समाजसेवी रमेश कुमार सिंह ने हसनपुर हावड़ाहा घाट पर छठ व्रतियों की सुविधा के लिए तत्पर होकर सहयोग किया।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!