Breaking News

स्कूल में खैनी पर लगा बैन तो शिक्षक सड़क पर ही बनाने लगे खैनी, उक्त शिक्षक दो जगहो से उठाते हैं वेतन


अरवल:
कहते हैं शिक्षक समाज का मार्गदर्शक होते हैं चुकी उनके द्वारा समाज को कई प्रकार के महान विभूतियों को तराश कर निर्मित किया जाता है इसलिए शिक्षक का दर्जा समाज में सबसे उत्तम दर्जे की मानी जाती है। ऐसे में जब एक शिक्षक बीच सड़क पर ही खैनी बना कर खाने लगे तो आम जनमानस में क्या मैसेज जाएगा एक तरफ राज्य सरकार राज्य के सभी सरकारी स्कूलों में मादक पदार्थों का खैनी पर बैन लगा दी है कि जो भी शिक्षक विद्यालय में खैनी खाते पकड़े जाते हैं तो उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी परंतु दुख इस बात की है कि करपी प्रखंड के नगला प्राथमिक विद्यालय के प्रभारी प्रधानाचार्य विनय कुमार जो आम आवाम के बीच खुलेआम खैनी बना कर आते देखे जा रहे हैं जो कहीं ना कहीं समाज को दूषित करने का मैसेज प्रतीत होता है हालांकि उक्त शिक्षक पर पूर्व में भी कई तरह के आरोप लग चुके हैं बावजूद इस मामले में शिक्षा विभाग अपने हाथ खड़ा किए हुए हैं।

जिससे स्पष्ट होता है कि कहीं ना कहीं एक शिक्षक के सामने पूरा शिक्षा विभाग बौना साबित हो रहा है सूत्रों की माने तो उक्त शिक्षक अवसर विद्यालय पर तरह-तरह के बहाने बनाकर गायब रहता है और कथित तौर पर  पत्रकारिता का भी कार्य करता है जानकारों की माने तो दो अपने रिलेटिव के नाम से आईडी बनाकर इंटरनेट मीडिया के जरिए आम आवाम के बीच खबर भी प्रकाशित करता है इस बाबत पूछे जाने पर उक्त शिक्षक द्वारा कहा जाता है कि स्कूल टाइम छोड़कर पार्ट टाइम में हम पत्रकारिता भी कर सकते हैं जिले के डीएम भी चाहे तो वह भी पार्ट टाइम पत्रकारिता कर सकते हैं हालांकि एक सरकारी कर्मी के दो दो जगह से वेतन उठाना कहीं ना कहीं गैरकानूनी प्रतीत होता है अगर उक्त शिक्षक का पासबुक जांच की जाए तो स्थिति स्पष्ट हो पाएगा कि आखिर उक्त शिक्षक का कहां-कहां से वेतन आता है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!