Breaking News

दहेजलोभी द्वारा हत्या कर साक्ष्य छुपाने के उद्देश्य से शव को जलाने का किया प्रयास, मौके पर पहुंची पुलिस


वैशाली:
पातेपुर थाना क्षेत्र के बरडीहा तुर्की गांव में एक विवाहिता की दहेजलोभी ससुरालियों द्वारा हत्या कर साक्ष्य छुपाने के उद्देश्य से शव को जलाने के दौरान ही पुलिस द्वारा मौके पर पहुंच कर अधजला शव बरामद किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। इस मामले में मृतक विवाहिता की मां द्वारा पातेपुर थाने में ससुराल पक्ष के 9 लोगो के विरुद्ध नामजद प्राथिमिकी दर्ज कराई गई है। पुलिस इस मामले में बरामद अधजला शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्मार्टम के लिए सदर अस्पताल हाजीपुर भेज दिया है। वही इस मामले में पुलिस प्राथिमिकी दर्ज कर हत्या के आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए संघन छापेमारी कर रही है। मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार की देर रात पातेपुर थाना क्षेत्र के बरडीहा तुर्की गांव में उस समय अजीबोगरीब स्थिति उत्पन्न हो गई जब एक विवाहिता की तीन लाख रुपये दहेज की राशि के लिए ससुरालियों द्वारा हत्या के बाद शव को जलाने के दौरान ही विवाहिता के मायके के लोग पुलिस के साथ उक्त गांव पहुंच गई।

 इस मामले में विवाहिता की मां समस्तीपुर जिले के उजियारपुर थाना क्षेत्र के चन्दौली गांव निवासी रामवृक्ष सहनी की पत्नी सुदामा देवी द्वारा पातेपुर पुलिस को दिए लिखित आवेदन के अनुसार उसकी पुत्री सुनीता देवी की शादी वर्ष 2018 में पातेपुर थाना क्षेत्र के बरडीहा तुर्की गांव निवासी हरेंद्र सहनी के पुत्र बबलू सहनी के साथ हिन्दू रीति रिवाज से अपने सामर्थ्य के अनुसार चार लाख रुपये नगद,एक मोटरसाइकिल,आभुषण एवं अन्य सामग्री आदि उपहार स्वरूप देकर किया था। शादी के एक वर्ष तक पूरे परिवार के साथ उसकी पुत्री ठीक से रह रही थी। इसी दौरान उसे एक पुत्र भी हुआ था। महिला ने बताया है कि शादी के एक वर्ष बाद से ही उसकी पुत्री के पति बबलू सहनी, ससुर हरेंद्र सहनी, भैंसुर उपेंद्र सहनी, राजेश सहनी, ननद लीली देवी, नंदोई बूटन सहनी एवं उसकी सास,दो गोतनी मिलकर हमेशा दहेज में तीन लाख रुपये मायके से लाकर देने के लिए दबाव बनाने लगे थे। जिसके लिए बार बार मारपीट एवं प्रताड़ित किया जाता था। पुत्री को प्रताड़ित किये जाने की जानकारी मिलने पर कई बार लड़की के पिता द्वारा कई बार समझाने बुझाने का प्रयास भी किया गया था। शुक्रवार को दोपहर के करीब फोन द्वारा सूचना मिली कि उसकी पुत्री सुनीता देवी की उसके ससुराल वाले ने मिलकर हत्या कर दिया है। सूचना मिलने पर जब लड़की के मायके के लोग उसके घर पहुंचे तो पता चला कि लोग मृतका के शव को लेकर जलाने के लिए गए है। 

जिसके बाद मृतिका के मायके के लोग सीधे थाना पहुंचे जहां से थाने में तैनात एस आई वीरेंद्र पासवान पुलिस बल के जवानों एवं मृतिका के सवजनों के साथ मौके पर पहुंच कर काफी खोजबीन के बाद बरैला चंवर में शव को जलाने के क्रम में ही बरामद कर लिया। पुलिस को आते देख शव जला रहे सात आठ लोग मौके से भागने में सफल हो गए जिसके बाद पुलिस अधजला शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्मार्टम के लिए सदर अस्पताल हाजीपुर भेज दिया।इस मामले में पुलिस सभी आरोपितों के विरुद्ध नामजद प्राथिमिकी दर्ज कर कार्रवाई कर रही है एवं आरोपीतों की गिरफ्तारी के लिए संघन छापेमारी कर रही है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!