Breaking News

जयंती पर श्रद्धा पूर्वक याद किए गए जय प्रकाश नारायण


महुआ (वैशाली)
नगर स्थित मध्य विद्यालय, महुआ बालक में लोक नायक जय प्रकाश नारायण की जयंती समारोह आयोजित कर दी गई श्रद्धांजलि । जयंती को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि जब देश में सत्ता निरंकुश हो गई थी, उस वक्त युवाओं को आह्वान करते हुए तानाशाही सरकार को उखाड़ फेंकने का शंखनाद किया था। जिसके परिणाम स्वरूप देश में तत्कालीन कांग्रेस सरकार बुरी तरह पराजित हो गई थी। जयप्रकाश नारायण सत्ता परिवर्तन के साथ साथ व्यवस्था परिवर्तन भी करना चाहते थे।

 उनका मानना था कि जब तक देश में व्यवस्था परिवर्तन नहीं होगा ,तब तक सत्ता परिवर्तन करने का लाभ नहीं मिल सकेगा।आज के वर्तमान परिस्थिति में सत्ता के चूर् में राजनेता मदमस्त है ,जिसे कारण बहुत सारी समस्याएं उत्पन्न हो रही है। समारोह में विचार रखने वालों में विद्यालय के प्रधानाध्यापक राम किशोर सिन्हा, शिक्षक अरविंद कुमार ,मोहम्मद इफ्तेखार अहमद, अनवारुल हक, आलोक कुमार, मनोज श्रीवास्तव, अविनाश कुमार, श्यामनाथ साह, प्रमोद पासवान ,श्वेता ,रंजीता के अलावे विद्यालय के छात्र छात्राएं उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!