Breaking News

अति पिछड़ा वर्ग आरक्षण बचाओ संघर्ष मोर्चा द्वारा किया गया विशाल प्रदर्शन


अरवल जिला ब्यूरो प्रमुख बिरेंद्र चंद्रवंशी की रिपोर्ट

 अरवल कुर्था:  जिला मुख्यालय अरवल में अति पिछड़ा वर्ग आरक्षण बचाओ संघर्ष मोर्चा द्वारा विशाल प्रदर्शन किया गया,, अति पिछड़ा वर्ग आरक्षण के सवाल पर उच्च न्यायालय पटना ने नगर निकाय चुनाव को रोक दिया है न्यायालय का कहना है कि अति पिछड़ा वर्ग जाति में राजनैतिक एवं सामाजिक रूप से पिछड़ी जाति को चिन्हित करने के लिए बिहार सरकार एक आयोग का गठन करें, आयोग की रिपोर्ट के बाद ही अति पिछड़ा वर्ग को आरक्षण दे उसके बाद नगर निकाय का चुनाव कराया न्यायालय का कहना है अति पिछड़ा वर्ग में जाति जनगणना कर नीमच रखी जाती जो राजनैतिक रूप से पिछड़ा है पहचान कर अलग करो तब आरक्षण दो दूसरी तरफ केंद्र सरकार 2021 में जाति आधारित जनगणना करने को तैयार नहीं है केंद्र की मोदी सरकार अगर 2011 में कराए गए जाति आधारित गणना को प्रकाशित कर देती तो आज नगर निकाय चुनाव में उच्च न्यायालय पटना को अति पिछड़ा वर्ग के निम्न स्तरीय जाति को चिन्हित करने के लिए आयोग गठन करने हेतु बिहार सरकार को निर्देश नहीं देना पड़ता बिहार में 2006 से ही स्तरीय पंचायत चुनाव एवं नगर निकाय चुनाव में वर्ग को आरक्षण मिलता रहा है और सर्वोच्च न्यायालय के आरक्षण को समाप्त करना चाहती है,, इसी सवाल के विरोध में अति पिछड़ा वर्ग आरक्षण बचाओ संघर्ष मोर्चा के संयोजक अजय शर्मा वीरेंद्र प्रसाद रामेश्वर चौधरी कामेश्वर ठाकुर लगन देव चौधरी अजय विश्वकर्मा अरविंद निषाद जसीम अहमद मुन्ना ठाकुर उमेश पंडित अशोक कुमार पंडित भूषण भगत जोगिंदर शाह विश्वनाथ का रविंद्र चंद्रवंशी उमेश चंद्रवंशी सुनील शर्मा वीरेंद्र चंद्रवंशी बिरजू चंद्रवंशी राम जी शर्मा राजेश कुमार मुखिया अमरा पंचायत संजय मिस्त्री राजेंद्र ठाकुर कमलेश ठाकुर के चंद्रवंशी नरेश मिस्त्री रंजीत मिस्त्री सभी नेता लोग उपस्थित होकर अरवल बस स्टैंड से एसडीओabasतक, होते हुए प्रखंड कार्यालय एसडीओ कार्यालय एवं चौक पर इसका समापन किया गया, सभी नेताओं के हाथ में अति पिछड़ा आरक्षण हेतु तख्तियांहाथ में लिए हुए थे एवं जोरदार नारे लगा रहे थे,, अरवल जिले के सभी पांचों ब्लॉक के अति पिछड़ा के नेता उपस्थित होकर कार्यक्रम को सफल किए एवं सरकार के विरोध में विशाल प्रदर्शन किया गया।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!