Breaking News

तमसो मा ज्योतिर्गमय का संदेश देता है मकर संक्रांति का पर्व:- जय कुमार सिंह


दावथ (रोहतास) 
दावथ प्रखंड के मलियाबाग में समरसता भोज का आयोजन किया गया।जिसमें प्रखंड क्षेत्र के साथ दिनारा विधान सभा क्षेत्र के साथ ही आस पास के जिले के लोगों ने भाग लेकर सहभोज किया।सहभोज का शुभारम्भ कराते हुए पूर्व मंत्री जयकुमार सिंह ने कहा भारतीय संस्कृति में जीवनशैली प्रकृति के अनुरूप स्वीकार की गई है जिससे हम शारीरिक मानसिक सामाजिक व आध्यात्मिक रूप से स्वस्थ रह सकते हैं।

उत्तरायण होते सूर्य की उपासना के पर्व मकर संक्रांति तमसो मा ज्योतिर्गमय का सन्देश देता है और इस समय तमाम अनाजों सब्जियों के मिश्रण से बना व्यंजन जिसे हम खिचड़ी कहते है ।मौसम के अनुकूल सुपाच्य स्वास्थ्यवर्धक तो है ही ,हमारी सामाजिक समरसता का सन्देश भी है कि समाज के सभी वर्ग अमीर गरीब जब एक साथ मिलकर राष्ट्रनिर्माण में अपनी सहभागिता करते हैं तो समूचा राष्ट्र प्रगतिशील हो जाता है। तिल गुड़ के लड्डू हृदय की पौष्टिकता के साथ एकता की मिठास, व आकाश में उड़ती पतंग व्यक्ति को अभिमानी होने से बचने का सन्देश देती है। ऐसे आयोजनों से समाज में एक नया संदेश जाता है और हमें अपने पूर्व से चले आ रहे संस्कार एकता और अपन्त्त्व का संदेश देता है। 

मौके पर जदयू जिला अध्यक्ष अजय कुशवाहा, समाजसेवी सुरेंद्र सिंह, जदयू अध्यक्ष अशोक चौधरी, मुन्नू चंद्रवंशी, हृदया कुशवाहा, सचितानंद सिंह, उपेंद्र नारायण सिंह, नीला गृह उद्योग के सोनू पांडेय, गोरे जी, बीरेंद्र सिंह, मंतोष दुबे, संजय यादव, मुखिया संजय सिंह, रिची गुप्ता, मो हारून, काबुल खां, उपेंद्र यादव, अभय सिंह,रामजी राय कौशल पांडेय सहित कई अन्य लोग उपस्थित थे।।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!